English Website हिन्दी वेबसाइट
एनजीएमए मुंबई  |  एनजीएमए बंगलुरू

Friday, August 01, 2014


हमारा परिचय  |  इतिहास  |  शोकेस  |  प्रदर्शनी  |  संग्रह  |  प्रकाशन  |  देखने की योजना  |  हमसे संपर्क करें

आप यहां हैं:  होम  -  शैक्षिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियाँ
शैक्षिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियाँ
लोगों में समकालीन कला के कार्यों की बेहतर और संवेदनशील समझ विकसित करना एनजीएमए के मुख्य उद्देश्यों में से एक है। आम लोगों में कला की परख और सराहना के भाव को बढ़ावा देने के लिए एनजीएमए सभागार में प्रति दिन दो बार फिल्मों की प्रस्तुति होती है। इस साल के दौरान आम जनता के साथ-साथ दिल्ली और आसपास के लगभग 60 स्कूलों के विद्यार्थीयों एवं शिक्षकों के लिए 500 से अधिक बार फिल्में दिखाई गईं।

प्रत्येक रविवार गैलरी में विद्यार्थियों के लिए एक आर्ट स्केच क्लब का आयोजन किया जाता रहा। 3 आयु वर्गों के बच्चों के लिए एनजीएमए में जून 2008 में एक ग्रीष्मकालीन चित्रकला कार्याशाला का आयोजन किया गया। इसमें 180 विद्यार्थियों की भागीदारी रही और उन्हें सर्टिफिकेट दिए गए। स्कूल समूहों के 108 आयोजित दौरे हुए और इस साल विभिन्न आयु समूहों के कुल 7904 विद्यार्थियों ने गैलरी का दौरा किया। गैलरी में नियमित अंतराल पर कला एवं कला की प्रचलित प्रथाओं पर वयाख्यान एवं परिसंवाद भी आयोजित किए गए। विदेशी शिष्टमंडलों, फ्रैंड्स म्यूज़ियम सोसायटी के सदस्यों, विदेश मंत्रियों और समकालीन भारतीय कला में दिलचस्पी रखने वाले संगठनों के सदस्य के दौरे भी हुए।

नैशनल गैलरी ऑफ आर्ट का शैक्षिक दायित्व सर्वोपरि है। इस बात को पूरी अहमियत दी गई कि संग्रहालय की सफलता इस पर निर्भर करती है कि यह किस तरह आम जनता को शिक्षित करता है और इस क्षेत्र के पेशेवरों और विशेषज्ञों की जरूरतों को पूरा करता है। इसलिए इस कार्यक्रम में निम्नलिखित बिन्दुओं का पूर्ण समावेश किया गया हैः
  • स्कूली बच्चों के दौरों का आयोजन
  • आम जनता को शिक्षित करने के उद्देश्य से टूर एवं कार्यक्रमों का लोकप्रिय आयोजन
  • कलाकारों को आम सेवाएं उपलब्ध करवाना जैसे रिकार्ड रखने की सुविधाएं और शैक्षिक प्रदर्शनियों का आयोजन
  • इस क्षेत्र के पेशेवरों एवं विशेषज्ञों के लिए विशेष व्याख्यानों, परिसंवादों एवं शोध कार्यों का आयोजन
  • सभी आयु-वर्ग के लिए आर्ट स्केच क्लब के माध्यम से प्रायोगिक मार्गदर्शन

इस शिक्षा कार्यक्रम में व्यक्ति विशेष के साथ प्रत्यक्ष संपर्क का विशेष दायित्व है ताकि उनकी सर्जनात्मक क्षमता का विकास हो और कला को समझने-सराहने की उनकी क्षमता का विकास हो।

कला की परख, आलोचना और इतिहास की बेहतर समझ के लिए मौलिक एवं विशिष्ट व्याख्यान भी आयोजित हुआ करते हैं। कला की अंतर्राष्ट्रीय रुझानों पर तैयार फिल्मों को भी दिखाया जाता है। दृश्य एवं परफार्मिंग आर्ट के बीच परस्पर संबंधों की बेहतर समझ के लिए आम लोगों को आकृष्ट करने के उद्देश्य से फिल्म शो एवं टेप-रिकार्ड किए गए संगीतों को उपलब्ध कराने की व्यवस्था भी की जाती है।

 
गैलरी में प्रत्येक रविवार विद्यार्थीयों के लिए आर्ट स्केच क्लब आयोजित किए गए

नई दिल्ली

 
ग्रीष्मकालीन कार्यशाला का आयोजन

नई दिल्ली

 
ग्रीष्मकालीन चित्रकला कार्यशाला के प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र देते हुए एनजीएमए के निदेशक

नई दिल्ली

 

शैक्षिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियाँ

आर्ट रेफरेंस लाइब्रेरी एवं डॉक्युमेंटेशन सेंटर

कलाकृतियों का पुनरुद्धार